हैप्पी बर्थडे नवाजउद्दीन सिद्दीकी: नवाजुद्दीन के बर्थडे पर जानिए उनकी मोटिवेशनल कहानी के बारे में Featured

मुंबई: कहते हैं यदि किसी काम को लेकर मन में जुनून हो और उसे करने में शिद्दत से जुट जाएं तो सफलता मिलना तय है। कुछ ऐसा ही हुआ है आज मायानगरी के सुपर्व कलाकारों में से एक नवाजउद्दीन सिद्दीकी के साथ जिन्होंने मुकाम पाने के लिए न जाने क्या क्या किया यहां तक कि जरूरत पड़ी तो वॉचमैन की नौकरी भी कर ली….. लेकिन कभी घरों का यह वॉचमैन आज करोड़ों फिल्म पे्रमियों का मोस्ट वॉचमैन बन गया है। आज यानी 19 मई को नवाज पूरे 46 साल के हो गए हैं। एक सशक्त अभिनेता मेहनती कलाकार और अच्छे इंसान को जन्मदिन की बहुत बहुत बधाई के साथ उनके जीवन की कुछ यादगार बातें आज हम यहां आपके साथ शेयर कर रहे हैं। नवाजुद्दीन सिद्दीकी उत्तर प्रदेश के शहर मुजफ्फरनगर के कस्बे बुधाना में पैदा हुए। इस कस्बे में नवाज को कोई फिल्मी माहौल नहीं मिला। 80 के दशक के आखिरी दौर का ये वक्त था जब टीवी घर मे होना बड़ी शान माना जाता था। कस्बे और छोटे शहर में कलर टीवी नहीं पहुंचा था।

जवान होते लोग छुप-छुप के ब्लैक एंड व्हाइट टीवी देखा करते थे। मौहल्ले भर के बच्चे एक ही घर में टीवी देख रहे होते थे क्योंकि अमूनन मुहल्ले में एक या दो टीवी ही हुआ करते थे। नवाज भी टीवी देखते और दूसरे काम छोड़ देर तक टीवी के सामने रहते, यहीं से एक सपना नवाज के मन में पल गया। नवाज ने दिल्ली में साल 1996 में दस्तक दी, जहां उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से अभिनय की पढ़ाई पूरी की। इसके बाद वह किस्मत आजमाने मुंबई चले गए। नवाज को खुद कभी ये उम्मीद नहीं थी कि वे इतने ज्यादा मशहूर हो जाएंगे। नवाज ने एक्टिंग स्कूल में दाखिला तो जैसे तैसे ले लिया था, लेकिन उनके पास रहने को घर नहीं था। इसलिए उन्होंने अपने एक सीनियर से कहा कि वो उन्हें अपने साथ रख लें। इसके बाद नवाज उनके अपार्टमेंट में इस शर्त पर रहने लगे कि उनको वह खाना बनाकर खिलाएंगे।

नवाज अपने संघर्ष के दिनों में कुछ भी करने गुजरने को तैयार रहते थे। इसलिए वह कभी वॉचमैन की नौकरी भी किया करते थे। फिल्मों में आने के बाद भी नवाज ने वेटर, चोर और मुखबिर जैसी छोटी- छोटी भूमिकाओं को करने में भी कोई शर्म महसूस नहीं की। एक्टर ने शूल, मुन्ना भाई एमबीबीएस और सरफरोश जैसी फिल्मों में ये छोटे-छोटे किरदार निभाए। लेकिन अब के दौर में बॉलीवुड में पीपली लाइव, गैंग्स ऑफ वासेपुर जैसी फिल्मों से अपने अभिनय का लोहा मनवाने वाले फिल्म अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी के अभिनय का डंका बज रहा है।

लॉकडाउन में अपनी मां और अन्य परिवारजनों के साथ इस समय बुधाना में अपने पैतृक आवास पर आ गए हैं। लॉकडाउन के कारण शूटिंग बंद है, माना जा रहा है कि फिल्म अभिनेता का बुड़ाना आने का उद्देश्य परिवार के साथ अपना जन्मदिन सेलिब्रेट करना है। नवाजुद्दीन सिद्दीकी मुंबई में अपने भाई शम्स सिद्दीकी और मां के साथ रहते हैं और वर्तमान में बॉलीवुड में एक व्यस्त अभिनेता हैं। उनके पास काम की कमी नहीं है। उनकी फिल्म धूमकेतु 22 मई को रिलीज होने जा रही है। इस फिल्म को जी-5 पर रिलीज करने का फैसला किया गया है। वह इस फिल्म में लेखक कहानीकार की भूमिका में हैं।

Rate this item
(0 votes)
शेयर करे...

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.