सरकार दिसंबर तक आरसीएफ, एनएफएल में अपने शेयर बेचेगी , 1200 से 1500 करोड़ जुटाने का है लक्ष्य Featured

 

सरकार दो उर्वरक कंपनियों राष्ट्रीय केमिकल्स एंड फर्टिलाइजर्स लिमिटेड (आरसीएफ) और नेशनल फर्टिलाइजर्स लिमिटेड (एनएफएल) के शेयरों की बिक्री इस साल दिसंबर के अंत तक कर सकती है. एक आला अधिकारी ने ये जानकारी दी है. इस शेयर बिक्री से सरकार को 1200 से 1500 करोड़ रुपये से अधिक की रकम प्राप्त हो सकती हैं.

 

 

सरकार के अधिकारी ने पीटीआई-भाषा से कहा कि सरकार बिक्री पेशकश (ओएफएस) के जरिये आरसीएफ में अपनी 10 प्रतिशत तथा एनएफएल में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी. साथ ही उन्होंने बताया कि, इस शेयर बिक्री से सरकार को 1200 से 1500 करोड़ रुपये मिल सकते हैं.

 

आगामी महीनों में शेयरों का हो सकता है बेहतर मूल्यांकन 

 

 

अधिकारी ने साथ ही बताया कि, सरकार ने पिछले कुछ समय में उर्वरक क्षेत्र के लिए जो कदम उठाए हैं, उनसे आगामी महीनों में शेयरों का मूल्यांकन बेहतर हो सकता है. बीएसई में शुक्रवार को आरसीएफ का शेयर 72.25 रुपये पर और एनएफएल का 53.95 रुपये पर बंद हुआ. सरकार की फिलहाल एनएफएल में 74.71 प्रतिशत तथा आरसीएफ में 75 प्रतिशत हिस्सेदारी है.

 

बता दें कि, सरकार ने 2021-22 में विनिवेश के जरिये 1.75 लाख करोड़ रुपये जुटाने का महत्वाकांक्षी लक्ष्य रखा है. पिछले वित्त वर्ष में सरकार ने विनिवेश से 38,000 करोड़ रुपये जुटाए थे. चालू वित्त वर्ष में सरकार अब तक एक्सिस बैंक, एनएमडीसी लिमिटेड और हुडको में हिस्सेदारी बिक्री से 8,300 करोड़ रुपये जुटा चुकी है.

Rate this item
(0 votes)
शेयर करे...

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Magazine