निजी हॉस्पिटल के डॉक्टरों द्वारा मरीजों को बड़े पैमाने पर बिल दिए जा रहे हैंं, इंजेक्शन की हो रही है कालाबाजारी Featured

इंदौर,मेघा तिवारी:सर्व धर्म संघ अध्यक्ष मंजूर बैग ने अपने बड़े बयान में कहा है कि राज्य  शासन के कैबिनेट मंत्री तुलसी सिलावट जी एवं जिलाधीश मनीष सिंह द्वारा निजी हॉस्पिटलों को बड़े पैमाने पर इंजेक्शन और दवाइयों की व्यवस्था की जा रही है उसके बाद भी हॉस्पिटल के संचालकों द्वारा जानबूझकर बीमार मरीजों के साथ दुर्व्यवहार के साथ हॉस्पिटल संचालकों द्वारा लाखों के बीच सोपे जा रहे हैं 3 दिन 7 दिन और 14 दिन के रेट दवाओं के भी ज्यादा वसूले जा रहे हैं इंजेक्शन रेमदेसीविर मरीजों के परिवारों को चिट्ठी लिखकर बाहर से मंगाए जाने का दबाव बनाते हैं जबकि शासन और प्रशासन निजी हॉस्पिटलों को बड़े पैमाने पर इंजेक्शन उपलब्ध प्रत्येक दिन करा रहा है सोशल मीडिया के माध्यम से जिलाधीश महोदय से मांग यह है कि निजी हॉस्पिटल पर स्वास्थ विभाग द्वारा  निगरानी रखी जाए एक कमेटी बनाकर निजी हॉस्पिटल द्वारा आए दिन लाखों की जो मरीजों से वसूली की जा रही है उस पार स्वास्थ्य विभाग की कमेटी जांच करें इंदौर में सैकड़ों की संख्या में निजी हॉस्पिटल है गंभीर मरीज को तत्काल हॉस्पिटलों में भर्ती किया जाए प्राइवेट निजी हॉस्पिटल के संचालकों द्वारा बाहर से ही मरीजों को रवाना किया जाता है जिला प्रशासन राज्य शासन द्वारा एसडीएम कि जो ड्यूटी लगाई गई है या अधिकारी भी मरीजों के परिजनों के फोन तक नहीं उठाते हैं व्हाट्सएप पर जानकारी दो उसे भी नजरअंदाज किया जा रहा है इस संबंध में श्री बेग ने कहा है कि निजी हॉस्पिटल  पर कड़ी निगरानी रखी जाए साथी डॉक्टरों द्वारा मरीज के परिजनों को जो इंजेक्शन लिख कर दिए जा रहे हैं उस पर रोक लगाई जाए जिससे कालाबाजारी रुक सकेगी

Rate this item
(0 votes)
शेयर करे...

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Magazine