आयशा आत्महत्या मामले को लेकर ओवैसी ने कहा कि बीवी को मारना और पैसे की मांग करना मर्दानगी नहीं है. Featured

हैदराबादः पति की प्रताड़ना से तंग आकर अहमदाबाद की साबरमती नदी में कूदकर जान देने वाली आयशा की मौत के बाद ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएएम) चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भी कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. उन्होंने कहा है कि मैं आप तमाम से अपील कर रहा हूं चाहे आप कोई भी मजहब से हों दहेज की लालच को खत्म करो. इस दौरान उन्होंने कहा कि मैं उन तमाम मुसलमानों से अपील कर रहा हूं अल्लाह के रसूल सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम (पैगंबर मोहम्मद) ने इरशाद फरमाया था कि तुममे सबसे बेहतरीन वो है जो अपने घरवालों से अच्छा व्यवहार करे.

 

ओवैसी ने कहा, ''अहमदाबाद में जो मुसलमान बच्ची का दर्दनाक वीडियो आया है जिसने खुदकुशी कर ली. मैं आप तमाम से अपील कर रहा हूं चाहे आप कोई भी मजहब से हों दहेज की लालच को खत्म करो. अगर तुम मर्द हो तो बीवी पर जुल्म करना मर्दानगी नहीं है. बीवी को मारना मर्दानगी नहीं है. बीवी से पैसों मुतालबा (मांग) करना मर्दानगी नहीं है. तुम मर्द कहलाने के लायक नहीं हो अगर ऐसी हरकत करोगे.''

 

उन्होंने कहा, ''वो (आयशा का पति) मासूम बच्ची पर जुल्म किया गया. वो तंग आ गई. उस व्यक्ति के मारने और पीटने पर इतना बड़ा इकदाम (कदम) उठा लिया. शर्म आना चाहिए उन लोगों को जिसने इस बेटी के साथ ऐसा किया. मैं अल्लाह से दुआ करूंगा कि अल्लाह तुमको गा़ारत (बर्बाद) करे.''

 

एआईएमआईएएम चीफ ने कहा, ''हर बाप की तकलीफ तुम नहीं समझ सकते. मैं कई ऐसे बाप को जानता हूं जो जिंदगी के आखिरी वक्त में मेरा हाथ पकड़कर कहते हैं असद साहब बच्ची की शादी है कुछ इंतजाम करवा दो. मरने से पहले कुछ हो जाए.''

 

उन्होंने कहा, ''क्या हो रहा है इन लोगों को, कितनी औरतों को तुम मारोगे. कैसे तुम मर्द हो जो तुम बच्चियों को मार रहे हो, उनकी जानें ले रहे हो. क्या तुम में इंसानियत मर चुकी है. ऐसे कितने लोग हैं जो अपनी बीवियों पर जुल्म करते हैं, थप्पड़ मारते हैं. दहेज का मुतालबा करते हैं. हामेला (गर्भवति) बीवियों को ढ़केलते हैं और बाहर निकल कर अपने आप को बड़ा फरिश्ता कहलाते हैं. तुम याद रखो दुनिया को धोखा दे सकते हो अल्लाह को नहीं. अल्लाह देख रहा है, अल्लाह समझ रहा है और अल्लाह जरूर मजलूम (जुल्म सहने वाला) का साथ देगा.''

 

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ''मैं उन तमाम मुसलमानों से अपील कर रहा हूं अल्लाह के रसूल सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम (पैगंबर मोहम्मद) ने इरशाद फरमाया था कि तुममे सबसे बेहतरीन वो है जो अपने घरवालों से अच्छा व्यवहार करे. बेहतरीन अखलाक (चरित्र) वो है जो अपनी बीवियों से अच्छा बर्ताव कर रहा है.''

 

आयशा के सुसाइड पर ओवैसी ने जो बयान दिया है हर तरफ उसकी चर्चा हो रही है. सोशल मीडिया पर इस वीडियो को लोग खूब शेयर कर रहे हैं साथ ही साथ इसकी तारीफ भी कर रह हैं.

Rate this item
(0 votes)
शेयर करे...

Latest from Mritunjay Nirmalkar

Related items

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Magazine

The Edition Today Magazine (July - 2020)