Mritunjay Nirmalkar

Mritunjay Nirmalkar

रायपुर : संसदीय सचिव एवं रायपुर पश्चिम के विधायक विकास उपाध्याय द्वारा विधानसभा के शहीद मनमोहन सिंह बख्शी वार्ड क्रमांक 23 के  समिति को जसगान हेतु वाद्य यंत्र भेंट किया गया। समिति के सदस्यों द्वारा विधायक महोदय के समक्ष वाद्य यंत्र की मांग रखी गई थी जिस पर विधायक विकास उपाध्याय के अनुपस्थिति में उनके निर्देशानुसार प्रतिनिधियों के माध्यम से महिला मण्डल दुर्गा समिति कोटा को वाद्य यंत्र भेंट किया गया।

समिति के सदस्य  आशा शेन्डे, कलावती चौहान, निर्मला साहु, काशी बाई कुहार सहित अन्य सदस्यों ने विधायक जी का आभार व्यक्त किया। 

 इस अवसर पर वार्ड के पार्षद प्रकाश जगत जी उपस्थित थे।

 

मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल से  उनके निवास कार्यालय में चंद्रपुर विधायक  रामकुमार यादव के नेतृत्व में आए अखिल भारतीय रामनामी समाज के प्रतिनिधिमंडल ने सौजन्य मुलाक़ात की। प्रतिनिधिमंडल ने पारम्परिक रामनामी मुकुट पहनाकर कर मुख्यमंत्री का अभिवादन किया और उन्हें रामनामी बड़े भजन मेला में शामिल होने आमन्त्रण दिया।

 अखिल भारतीय रामनामी समाज के अध्यक्ष श्री रामप्यारे ने मुख्यमंत्री को बताया कि तीन दिवसीय रामनामी बड़े भजन मेला का आयोजन जांजगीर-चाम्पा जिले के ग्राम-मोहतरा में जनवरी माह में किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने रामनामी बड़े भजन मेला का न्यौता सहर्ष स्वीकार करते हुए कहा कि प्रतिवर्ष इस मेले में राज्य ही नहीं बल्कि देश और विदेशों से लोग बड़ी संख्या में सम्मिलित होते हैं, यह मेला अपनी एक अलग पहचान रखता है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर उपस्थित रामनामी समाज के सभी लोगों को 28, 29, 30 अक्टूबर को राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव और 01 नवम्बर को राज्योत्सव के राज्य अलंकरण समारोह में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया।

इस अवसर पर भिलाई विधायक श्री देवेंद्र यादव, रामनामी समाज के श्री शोभा राम, श्री कौशल प्रसाद, श्री मेहता राम टण्डन, श्री गंगा राम टण्डन, श्री सुखराम टण्डन, श्रीमती टीका बाई, श्रीमती अघन बाई, श्री लक्ष्मण जांगड़े सहित अनेक लोग उपस्थित थे।

 

रायपुर: अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन, रायपुर एवम एम.जी. एम. नेत्र संस्थान, रायपुर के संयुक्त तत्वाधान मे सीता मेमोरीयल मल्टीस्पेशलिटी डेंटल क्लीनिक, रायपुर, डॉ जितेंद्र सराफ के विशेष सहयोग से निःशुल्क नेत्र एवम दंत चिकित्सा शिविर का आयोजन रायपुर में स्वामी विवेकानन्द स्टेडियम कोटा में दिनांक 24 /10/2021 रविवार को प्रात: 10:00 बजे से शाम 4:00 बजे तक किया गया ।

IMG 20211024 WA0014

सीता मेमोरीयल मल्टीस्पेशलिटी डेंटल क्लीनिक रायपुर के डॉ जितेंद्र सराफ ने बताया इस पूरे शिविर में लगभग 150 लोगो ने अपना दांत और आंख का जांच करवाया जिसमे से दांत की बीमारी से पीड़ित 20 मरीजों के दंत का सफल इलाज किया गया । उन्होंने बताया कि दांत की सर्जरी तत्काल मोबाइल यूनिट एंबुलेंस में किया गया इस तरह का मोबाइल यूनिट पूरे प्रदेश में केवल इनके संस्थान के पास ही है जिससे मरीज का तुरंत जांच करके उनका सफल ऑपरेशन भी किया गया ।

IMG 20211024 WA0015

एम.जी. एम. नेत्र संस्थान रायपुर की ओर से मरीजों के लिए एंबुलेंस की निशुल्क व्यवस्था भी की गई थी ताकि मरीजों को शिविर स्थल से हॉस्पिटल तक लाया जा सके और वापस पहुंचाया जा सके ।  

IMG 20211024 WA0010

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में संसदीय सचिव एवं रायपुर पश्चिम विधायक विकास उपाध्याय भी उपस्थित रहे। जिन्होंने इस पूरे शिविर के सफल आयोजन के लिए डॉक्टर्स एवम उनकी पूरी टीम को बधाई और शुभकामनाएं दी । 

 

IMG 20211024 WA0012

इस अवसर पर सेठ बनारसीदास चेरिटबल ट्रस्ट समता कालोनी रायपुर के मुख्य ट्रस्टी ईश्वर प्रसाद अग्रवाल समेत हनुमान प्रसाद अग्रवाल ,रमेश चन्द्र अग्रवाल ,सतपाल जैन ,प्रेमचन्द अग्रवाल ,मुरलीधर अग्रवाल ,संजय अग्रवाल ,किशन अग्रवाल ,विकास अग्रवाल और अन्य गणमान्य नागरिकों का भी सराहनीय योगदान रहा । 

 

रायपुर। अपनी सरकार जनकल्याणकारी कार्यक्रमों की सफलता के चलते मुख्यमंत्री भूपेश बघेल देश में सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री के रूप में उभरकर सामने आये हैं। सरकार के कार्यों से प्रभावित होकर प्रदेशवासी कांग्रेस से जुड़ रहे हैं। कैबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर की सक्रियता से कवर्धा विधानसभा क्षेत्र की प्रदेश में एक अलग ही पहचान बनी है। कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के नागरिकों के कांग्रेस प्रवेश का दौर जारी है। आज दिनांक 23.10.2021 को ग्राम दैहानडीह, विकासखंड सहसपुर लोहारा, जिला कबीरधाम के 78 ग्रामीणों ने कैबिनेट मंत्री श्री मोहम्मद अकबर के समक्ष कांग्रेस प्रवेश किया। मंत्री श्री अकबर ने कांग्रेस प्रवेश करने वाले नागरिकों का परंपरा अनुसार गमछा पहनाकर कांग्रेस परिवार में स्वागत किया व उन्हें बधाई दी। उन्होंने कहा कि नागरिकों की समस्याओं का त्वरित निदान किया जाएगा।WhatsApp Image 2021 10 23 at 5.54.43 PM

ग्राम दैहानडीह के निवासी आज दोपहर राजधानी रायपुर स्थित कैबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर के शंकर नगर स्थित शासकीय निवास कार्यालय पहंुचे। उन्होंने कांग्रेस की रीति-नीति से प्रभावित होकर पार्टी में प्रवेश करने की इच्छा जाहिर की। उन्होंने ने कहा कि कांग्रेस विकास के रास्ते पर चलने वाली पार्टी है, इसलिये वे कांग्रेस से जुड़ना चाहते हैं। कैबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर ने दैहानडीह के निवासियों की भावना का सम्मान करते हुए उनका कांग्रेस में प्रवेश कराया।

इस अवसर पर अपने संबोधन में कैबिनेट मंत्री अकबर ने कहा कि कांग्रेस सब को साथ लेकर चलने वाली पार्टी है। कांग्रेस में सभी कार्यकर्ताओं को समान दृष्टि से देखा जाता है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ विकास के पथ पर अग्रसर है। पिछले तीन वर्षों में छत्तीसगढ़ में चारों ओर खुशहाली का माहौल है। कवर्धा विधानसभा क्षेत्र में विकास कार्याें में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

कांग्रेस में प्रवेश करने के पश्चात दैहानडीह के निवासियों ने कहा कि वे कांग्रेस पार्टी से जुड़कर गर्व महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोहम्मद अकबर विकास पुरूष के नाम से जाने जाते हैं। इस अवसर पर उन्होंने कैबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर के समक्ष मांग रखी कि बड़ौदाखुर्द बांध के निर्माण की आवश्यकता है अतः जल्द से जल्द कर निर्माण कार्य प्रारंभ कर पूरा कराया जाए। दैहानडीह के निवासियों ने मंत्री को यह भी बताया कि तालाब में गंदा पानी आकर मिल रहा है। इसे रोकने नाली का निर्माण भी कराया जाना चाहिए। मंत्री अकबर ने यह समस्या जल्द ही दूर करने की बात कही।

कांग्रेस प्रवेश करने वालों के नाम इस प्रकार है:- रामकुमार पटेल, रामखिलावन पटेल, पतराखन पटेल, देवशंकर पटेल, लालमणी पटेल, रामझुल, धनसिंग, राजकुमार, निरंजन पटेल, सोहागी, धन्नू, भुनेश्वर पटेल, समारू, शिवप्रसाद, आनंद सिंग, फकत, खिलावन, बुधराम पटेल, रामप्रसाद, सुखऊ, उदेराम, भगवसिंह, बिसने पटेल, पवन, रमेश, उमेंद, अगरदास पटेल, जगमोहन, चरन, बिरूसर, लखन, गोपाल सिंह छेदावी, परदेशी, गोकुल, खेदू, धनुष, बुधेलाल, शत्रुहन सिंह, लखन, सुन्दर, मदन, रामदास, साखु, नवसिंग, रामजी पटेल, तहसील, पलट पटेल, विदेशी पटेल, सेवा, ईश्वर, श्रीकांत, रामकुमार श्रीवास, सत्यदेव, राम पटेल, जेठलाल, प्रेम लाल पटेल, दौवा पटेल, उदेराम पटेल, दिनेश, दीपक, रामराज पटेल, गणपत पटेल, कवल सिंह पटेल, शोभनाथ, उत्तम पटेल, सुनीता पटेल, ललीता छेदावी, शांति यादव, समुंद पटेल, गैंद कुमार छेदावी, शिवबती पटेल, सविता पटेल, रामराज, रमेश, जगुर, धनीराम, दशमुखी एवं मेहत्तर शामिल थे।

इस अवसर पर विशेष रूप से श्री उमेंदी पटेल, संजय पटेल, उदे पटेल, समारू छेदावी उपस्थित थे।

 

रायपुर,महंगी होती स्वास्थ्य सेवाओ, महंगी ब्रांडेड दवाओं की खरीदी का बोझ उठा रहे मरीज और जनता को प्रदेश सरकार द्वारा धनवन्तरि जैनेरिक दवा दुकान, प्रदेश के सभी जिलों में खोले जाने के फैसले को स्वागत योग्य बताते हुए छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी वरिष्ठ प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने कहा कि, मोदी-महंगाई के दौर में धन्वंतरि जैनरिक दवाओं से जनता को बड़ी राहत देने का फैसला संवेदनशील कांग्रेस भूपेश सरकार ने लिया है। सभी आय वर्ग के लोगो को कम कीमत पर दवा उलब्ध करना ही मुख्य उद्देश्य है। भूपेश सरकार ने सबकी अच्छी सेहत के लिए जांच और उपचार की निशुल्क सेवाओं को गांव, बस्तियों, बसाहट, हाट बाजारों तक पहुंचाया है, अब महंगाई के दौर में सस्ती दवाओं का इंतजाम कर रहे हैं ताकि अच्छी गुणवत्ता की दवाओं तक सबकी पहुंच सुनिश्चित हो सके।

 

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने कहा कि, धन्वंतरी जेनेरिक दवा दुकानों में 300 से ज्यादा किस्मों की दवाइयां सर्जिकल आइटम एवं हर्बल उत्पाद उपलब्ध होंगे। देश के बीस प्रतिष्ठित दवा निर्माताओं की दवाइयां होंगी। प्रदेश के 169 शहरों में 188 धन्वंतरी मेडिकल स्टोर चिन्हित किए गए है। जैनरिक दवा दुकानों में जरूरी मल्टीविटामिन 169 रूपये की महंगी सिरप केवल 64 रूपये में उपलब्ध होगी इसी प्रकार पेनकिलर, डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, स्कीन सबंधित दवाएं सस्ते दर पर मिलेंगी।

 

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने बताया कि राजधानी रायपुर सुभाष स्टेडियम धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर में मात्र 24 घंटे के भीतर एक हजार से अधिक लोगों ने सस्ते दर पर दवाइयां खरीदी है जिससे साबित होता है कि सस्ते दरों पर जेनेरिक दवाइयां लोगों की वर्तमान मूल आवश्यकता है। स्वास्थ्य को लेकर महंगाई के वर्तमान हालातों में राज्य सरकार की धन्वंतरी योजना पर भारतीय जनता पार्टी का विरोध राजनीतिक दिवालियेपन की प्रकाष्ठा है।

 

कलिंगा विश्विद्यालय नया रायपुर में सर्व सामाजिक संगठन द्वारा छत्तीसगढ़ी सतनामी समाज के छात्र को कलिंगा विश्विद्यालय के कुलसचिव द्वारा थप्पड़ मारने, छात्रों कोIMG 20211024 WA0003

IMG 20211024 WA0004 प्रताड़ित करने तथा झुठे आरोप में फसाने जैसे विभिन्न मुद्दे को लेकर विरोध में कुलसचिव को बर्खास्त करने की मांग को लेकर कलिंगा विश्विद्यालय के कुलसचिव का शव यात्रा निकालकर पुतला जलाया गया।

 

 

आईएएनएस-सी वोटर द्वारा कराए गए सर्वेक्षण में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को देश के सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री के रूप में चिन्हित किए जाने की खबर से आज सोशल मीडिया में नागरिकों में खासा उत्साह रहा। ट्विटर पर हैशटैग “बेस्ट सीएम भूपेश बघेल” 2 घंटे से अधिक समय तक टॉप-5 में ट्रेंड करता रहा। 07 हजार से अधिक लोगों ने अपनी पोस्ट में इस हैशटैग का इस्तेमाल किया।

गौरतलब है कि आईएएनएस-सी वोटर ने अपने सर्वेक्षण के परिणाम कल जारी किए थे। इसके मुताबिक राज्य के 94 प्रतिशत लोगों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की कार्यप्रणाली को लेकर अपनी खुशी जाहिर की थी। आईएएनएस ने अपनी सर्वे रिपोर्ट जारी करते हुए कहा था कि बघेल ने छत्तीसगढ़ में कई कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं, जिनमें निजी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को मुफ्त शिक्षा प्रदान करना शामिल है, जिन्होंने कोविड -19 के लिए माता-पिता / अभिभावकों को खो दिया है। महतारी दुलार योजना के तहत ऐसे बच्चों की पढ़ाई का खर्च छत्तीसगढ़ सरकार वहन करेगी। नीति आयोग की एसडीजी इंडिया इंडेक्स रिपोर्ट 2020-21 के अनुसार, सतत विकास लक्ष्यों के लैंगिक समानता पैरामीटर पर छत्तीसगढ़ भारत में शीर्ष प्रदर्शन करने वाला राज्य था। नीति आयोग 115 संकेतकों पर सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की प्रगति को ट्रैक करता है। पिछले साल, छत्तीसगढ़ ने लैंगिक समानता पैरामीटर पर 43 अंक हासिल किए और भारत में सातवें स्थान पर था। इस साल, इसने 61 स्कोर किया और चार्ट में शीर्ष पर रहा। सीवोटर के संस्थापक यशवंत देशमुख ने कहा- " ऐसे मुख्यमंत्रियों को लोगों ने पसंद किया है जिनमें निर्णय लेने की क्षमताएं हैं और जिनके काम करने की शैली सीईओ जैसी है।

 

 

छत्तीसगढ़ में न केवल लघु वनोपजों का संग्रहण किया जा रहा है बल्कि उनकी प्रासेसिंग कर अनेक प्रकार के हर्बल औषधि और उत्पाद तैयार किए जा रहे हैं। इन कार्यों से युवाओं और महिला स्व-सहायता समूहों को रोजगार भी उपलब्ध हो रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और सचिन राव ने आज राजधानी रायपुर के कलेक्टोरेट के समीप जी.ई रोड में हर्बल उत्पाद विक्रय केन्द्र संजीवनी का निरीक्षण किया। इन केन्द्रों में प्रसंस्करण इकाईयों से तैयार किए गए लगभग 120 प्रकार के हर्बल उत्पादों का मार्केटिंग एवं विक्रय की जानकारी ली।

 

 

मुख्यमंत्री ने निरीक्षण के दौरान बताया कि छत्तीसगढ़ हर्बल ब्राण्ड से इन उत्पादों की मार्केंटिंग एवं विक्रय का कार्य छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज संघ द्वारा राजधानी रायपुर के छत्तीसढ़ हर्बल संजीवनी विक्रय केन्द्र के माध्यम से किया जा रहा है। राज्य के विभिन्न वनमण्डलों, जिला यूनियनों के स्व-सहायता समूहों के माध्यम से निर्मित प्रमुख उत्पादों द्वारा निर्मित उत्पादों का विक्रय यहां किया जा रहा है। इससे छत्तीसगढ़ के वन उत्पादों के मार्केंटिंग एवं विक्रय कार्य को बढ़ावा मिला है। उन्होंने बताया कि प्रोसेसिंग युनिटों की स्थापना के बाद स्थानीय लोगों की आय में बढ़ोतरी हुई है। महिला समूहों से तैयार उत्पादों को देश भर में मार्केट उपलब्ध कराने के लिए ई-कॉमर्स प्लेटफार्म में बिक्री की व्यवस्था की गई है।

 

गौरतलब है कि संजीवनी विक्रय केन्द्रों में राज्य के विभिन्न जिलों के निर्मित प्रमुख उत्पाद जैसे जगदलपुर जिला का काजू, चिरौजीं, महुआ तेल, कोण्डागांव जिला का तिखुर, ईमली चपाती, नारायणपुर का फूल झाड़ू एवं कांकेर का महुआ लड्डू शामिल है। इसी तरह भानुप्रतापपुर जिला का शहद, गरियाबंद जिला का सर्व ज्वर हर चूर्ण तथा बलौदाबाजार का जामुन जूस, आंवला कैंडी एव अन्य उत्पाद शामिल है। इस प्रकार बिलासपुर जिला का शहद, कटघोरा का शतावरी चूर्ण, अश्वगंधा चूर्ण, मरवाही जिला का सफेद मुसली चूर्ण, जशपुर जिला का च्यवनप्राश, सैनेटाइजर, राजनांदगांव जिला का महुआ स्कैस, कवर्धा जिला का शहद तथा बालोद जिले के महुआ चटनी, महुआ अचार उत्पाद आदि भी शामिल है।

 

इस अवसर पर कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, नगरीय प्रशासन मंत्री श्री शिव डहरिया, रायपुर नगर निगम के महापौर श्री एज़ाज़ ढेबर, विधायक श्री देवेंद्र यादव और कुलदीप जुनेजा, अन्य जनप्रतिनिधिगण, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, विशेष सचिव कृषि डॉ एस. भारतीदासन, कलेक्टर रायपुर श्री सौरभ कुमार, नगर निगम रायपुर के आयुक्त श्री प्रभात मलिक, जिला पंचायत रायपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री मयंक चतुर्वेदी सहित वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।

 

नोएडा इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस (ISB) के भारती इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक पॉलिसी (BIPP) द्वारा एक पोर्टल की शुरुआत की गई थी। जो खासकर पत्रकारों के लिए है। यह जनवरी 2020 में लॉन्च हुआ था, जो एक वन-स्टॉप ओपन-एक्सेस पोर्टल है। जिसका लाभ शोधार्थी, छात्र, नीति निर्माता, प्रशासक, गैर सरकारी संगठन और उद्यमी भी उठा सकते हैं। इसमें कृषि, ग्रामीण विकास और वित्तीय समावेशन से संबंधित जानकारी, डाटा और विज़ुअलाइज़ेशन के लिए रिपॉजिटरी में सार्वजनिक डाटासेट के संग्रह शामिल हैं। 

 

आईडीपी में जीएसटी, उर्वरक बिक्री, मनरेगा आदि के रूप में आर्थिक सुधार के उच्च आवृत्ति संकेतक (दैनिक और मासिक डाटा दोनों) पर एक अलग अनुभाग (इंडियापल्स आईएसबी) सहित विभिन्न डाटासेट को जोड़ने जैसी विशेषताएं भी हैं। पोर्टल 6 अलग-अलग भारतीय भाषाओं अंग्रेजी, हिंदी, बंगाली, मराठी, उड़िया, तेलुगु में उपलब्ध है।  कृपया www.indiadataportal.com का लिंक देखें।

 

सत्र का संचालन आईएसबी की सीनियर कंसल्टेंट (संचार एवं आउटरीच) दीप्ति सोनी द्वारा आईडीपी के कंसल्टेंट उपेंद्र सिंह के सहयोग से किया गया। कार्यशाला में पोर्टल एवं डेटासेट का परिचय और आकर्षक विज़ुअलाइज़ेशन कैसे बनाया जाए, इस पर चर्चा की गई। वर्कशॉप के अंत में प्रश्नोत्तर सत्र भी हुआ।

 

 

स्टेट वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन के चेयरमेन अरुण वोरा ने नवंबर में धान खरीदी शुरू होने के बाद कार्पोरेशन के गोदाम में चावल के भंडारण की सभी तैयारियां करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। वोरा ने कहा कि कार्पोरेशन के गोडाउन की क्षमता का विस्तार करने के साथ ही भंडारण की क्वालिटी पर विशेष ध्यान दें। किसी भी स्तर पर चूक न होने पाए। इसके लिए समय रहते जरूरी प्रशिक्षण देने की व्यवस्था भी करें।

वोरा ने कार्पोरेशन के अधिकारियों से कुल 14 करोड़ रुपए की लागत से मध्य भारत के पहले फूड टेस्टिंग लैब स्थापना की प्रगति की जानकारी भी ली। अधिकारियों ने बताया कि प्रोजेक्ट की स्थापना के लिए कंसल्टेंट नियुक्ति की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। कंसल्टेंट नियुक्ति के साथ ही लैब के निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। वोरा ने बताया कि कार्पोरेशन के प्रदेश के सभी जिलों में नए गोडाउन बनाने के प्रस्ताव तैयार किये गए हैं।

वोरा ने अधिकारियों से कहा है कि नवंबर में शासन स्तर पर धान खरीदी की प्रक्रिया शुरू होगी। इसके बाद गोडाउन में चावल का भंडारण किया जाएगा। भंडारण से पहले सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर लें। सुरक्षित और गुणवत्तापूर्ण भंडारण के लिए मैदानी अधिकारी कर्मचारियों को प्रशिक्षण भी दें ताकि किसी भी तरह की चूक न होने पाए।

वोरा ने चावल भंडारण की संपूर्ण व्यवस्था और क्वालिटी का ध्यान रखने के लिए उड़न दस्ता का गठन करने के निर्देश भी दिए हैं। वोरा ने कहा कि भंडारण की क्वालिटी पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए। किसी भी तरह की विसंगति या त्रुटि नहीं होना चाहिए।

Page 1 of 198

Magazine