वीडियो-वन महोत्सव में मिली जिम्मेदारी...हरित क्रांति को मनाए एक पर्व...जिम्मेदारों ने किया केवल खाना पूर्ति...दूसरे के भरोसे छोड़ा पूरा काम...कबाड़ बन गया ट्री गार्ड। Featured

By Sumit Sengar August 06, 2020 384 0
कबाड़ की तरह पड़े ट्री गॉर्ड कबाड़ की तरह पड़े ट्री गॉर्ड

जगदलपुर-जुलाई माह से शुरू हुआ सरकार का एक बड़ा अभियान ...हरित क्रांति योजना ..जिसमे जिम्मेदारों ने बहुत ही बढ़िया काम किया है...प्रदेश सरकार ने इस अभियान में भाग लेने के लिये सभी से अपील की थी...जिसमे सांसद से लेकर विधायक और सरकारी तंत्र भी शामिल हुए...और सभी ने अपने अपने क्षेत्रों में पौधा लगाया....सरकार ने सभी विभागों को जवाबदारी दी गई और उन्हें कहा गया कि आप सभी लोग गाँव गाँव तक हरित क्रांति योजना को पहुंचाए और सभी से पंचायत जन प्रतिनिधियों से कहे कि पौधा लगाए..इस योजना में सरकार ने मनरेगा के तहत लोगो रोजगार भी उपलब्ध कराया है,जिसमे प्रति ट्री गार्ड 450 रुपये में तैयार किया गया...और उसे सहज कर रखने की जिम्मेदारी अधिकारियों को दी गई..लेकिन जिम्मेदार अपना काम पूरी ईमानदारी से कर दे तो कोई सा भी काम कभी फेल नही हो सकता..लेकिन आप वीडियो को देखकर ये जरूर कहेंगे..वाह रे सरकारी तंत्र...बस्तर ब्लाग के घाट लोहंगा इलाके में बड़ी मात्रा में ट्री गार्ड में पौधा लगाया गया,,और काफी मात्रा में ट्री गार्ड भी तैयार किये गए...लेकिन जनपद पंचायत के अधिकारी उसे सहज के रखने में फेल हो गए और दूसरे विभाग को कमी खामी बता रहे है कि एनएच किनारे जो गड्डा ....एनएच विभाग ने जो गड्डा किया है वो गलत किया है जिसके कारण पौधों को लगाने में काफी दिक्कत हो रही है साथ ही बने ट्री गार्ड को बाहर फेकने के संबंध में मुख्य कार्यपालन अधिकारी का कहना है कि वो फिर से बनवा लिया जाएगा...उससे कोई परेशानी नही है...मतलब सरकार ने जो ट्री गार्ड बनवाने के लिए जो राशि लगाई है वो बेकार जाएगी...खैर ट्री गार्ड नया आ जाएगा और लग भी जाएगी पर सवाल तो यही की जिम्मेदार कब अपनी ज़िम्मेदारी समझेंगे... आखिर जो खर्च हो रहा है वो भी तो जनता का है..अब सरकार के बड़े अफसर ये पूछे या ना पूछे...पर आप अपने दिल से पूछिए की जनाब आपने अपना काम पूरी ईमानदारी से किया है या नही।

Rate this item
(0 votes)
शेयर करे...

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Magazine

The Edition Today Magazine (July - 2020)