वीडियो-बस्तर की आदिवासी महिलाएं बना रही स्वेदशी राखियां...बड़े ही लगन व स्नेह से बनाकर बेच रही राखियां...बन रही आत्मनिर्भर Featured

By Sumit Sengar August 02, 2020 346 0

जगदलपुर-जगदलपुर। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत बस्तर में भी स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा आत्मनिर्भर भारत निर्माण की दिशा में बेहतर एवं सराहनीय पहल की जा रही है जिले के बस्तर विकासखंड में सरस्वती स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा रक्षाबंधन के पावन पर्व पर बहनों द्वारा भाइयों की कलाइयों पर बांधे जाने वाली राखियां तैयार की जा रही है। गौरतलब है कि हर साल अधिक संख्या में बाहरी देशों से राखियां आयात होती थी, लेकिन बस्तर कलेक्टर के निर्देशानुसार और जनपद पंचायत सीईओ के मार्गदर्शन में स्वदेशी अपनाओ भारत को आत्मनिर्भर बनाओ नारे को मूर्त रूप देते हुए सरस्वती स्व सहायता समूह की महिलाएं बड़े की लगन व स्नेह से राखियां बनाकर इसे बेच रही है।सरस्वती स्व सहायता समूह की महिला सदस्य सिरोमणि ठाकुर ने बताया कि समूह में लगभग 11 महिलाएं हैं जो राखी बनाकर इसे गांव के ही हाट बाजारों में छोटे-छोटे दुकानों और शासन के जितने भी कार्यक्रम हो रहे हैं वहां पर स्टॉल लगाकर बेच रहे हैं, उनके द्वारा निर्मित आकर्षक सुंदर व कम दर पर राखी उपलब्ध होने से लोगो को काफ़ी पसंद आ रही है। जनपद सीईओ जयभान सिंह राठौर ने जानकारी देते हुए बताया कि महिला स्व सहायता समूह द्वारा राखियों का निर्माण किया जा रहा है ग्रामीण महिलाओं द्वारा बनाए जा रहे हैं इन राखियों कि ज्यादा से ज्यादा बिक्री हो और उन्हें इससे अच्छी आय हो इसके लिए स्व समूह की महिलाओं को शासकीय आयोजनों के साथ-साथ हाट बाजारों और सरकारी कार्यालयों में राखी बिक्री करने हेतु प्रोत्साहित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि यह पहला मौका है जब बस्तर विकासखंड के ग्रामीण महिलाएं एकजुट होकर इस राखी के निर्माण कार्य में लगे हुए हैं और उनके द्वारा काफी आकर्षक राखी बनाने के साथ इसकी बिक्री कर एक अच्छी आय भी हो रही है।

Rate this item
(0 votes)
शेयर करे...

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Magazine

The Edition Today Magazine (July - 2020)