मानव अधिकार विषय पर दो दिवसीय कार्यशाला में एडीजी प्रशिक्षण अशोक जुनेजा व विशेष महानिदेशक आरके विज ने प्रतिभागियों को मानव अधिकार के तात्पर्य तथा ह्यूमन राइट्स कमिशन के गाइड लाइन व आवश्यक सावधानी के प्रति जागरूक किया। Featured

मानव अधिकार विषय पर दो दिवसीय कार्यशाला में एडीजी प्रशिक्षण अशोक जुनेजा व विशेष महानिदेशक आरके विज ने प्रतिभागियों को मानव अधिकार के तात्पर्य तथा हुमन राइट्स कमिशन के गाइड लाइन व आवश्यक सावधानी के प्रति जागरूक किया। छत्तीसगढ़ राज्य पुलिस अकादमी चंदखुरी में दो दिवसीय (7 व 8 फरवरी) कार्यशाला का आयोजन किया गया हैं जिसका 'विषय मानव अधिकार' हैं। उद्घाटन अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक प्रशिक्षण अशोक जुनेजा ने किया। इस कार्यशाला में एडीजी प्रशिक्षण जुनेजा जी ने प्रतिभागियों को मानव अधिकार के संबंध में नेशनल हुमन राइट्स कमिशन के गाइड लाइन तथा कस्टोडियल डेथ एवं रेप के दौरान अनवेषण अधिकारी को ध्यान रखी जाने वाली आवश्यक सावधानी के संबंध में जानकारी प्रदान की. इसके साथ ही प्रथम सूचना पत्र एवं अभियोग पत्र तैयार करते समय अन्वेषण अधिकारी के द्वारा बरती जाने वाली सावधानियों के संबंध में भी जानकारी प्रदान की। वहाँ मौजूद उमेश उपाध्याय सचिव जेएमएफसी ने पीड़ितो के लिए मुआवजा, पुनर्वास और कानूनी सहायता, बंधुआ मजदूर मुद्दे, बंधुआ श्रम प्रणाली उन्मूलन अधिनियम 1976, बाल श्रम के मुद्दे और बाल श्रम, एससी-एसटी मुद्दे और अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम 1989, सिविल लिबर्टीज एक्ट 1988, वन अधिकार अधिनियम तथा मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दों पर गंभीरतापूर्वक इस विषय पर व्याख्या किया। सेवानिवृत्त एडीजी आनंद तिवारी जी ने भी मानव अधिकार संरक्षण अधिनियम 1993 एनएचआरसी/एसएचआरसी की संरचना एवं कार्य प्रणाली तथा अन्य राष्ट्रीय/राज्य आयोग के संबंध में प्रतिभागियों को सम्पूर्ण जानकारी प्रदान की।और केके गुप्ता (डीआईजी जेल) द्वारा जेल से संबंधित जानकारी देते हुए अंडर ट्रायल कैदियों के अधिकार छूट एवं पैरोल मुद्दों से प्रतिभागियों को अवगत कराया जिनसे वे बिल्कुल अनजान थे। कार्यक्रम में मौजूद विशेष महानिदेशक आरके विज ने इस कार्यशाला में हिरासत में हिंसा पुलिस कार्यवाही में मौत गिरफ्तारी के दिशा निर्देश मानव अधिकार के अंतर्गत पुलिस अधिकारियों द्वारा उठाए जाने वाले आवश्यक मुददों के संबंध में अपने अनुभव एवं उनसे मिले ज्ञान को प्रतिभागियों की काफी लाभान्वित किया। कस्टोडियल डेथ पर पैनल डिस्कशन के लिए रितेश जी (स्टेट चीफ हिंदुस्तान टाइम्स) ने भी इस कार्यशाला में अपना बहुमूल्य समय दिया। इस कार्यशाला में पुलिस अकादमी के अधीक्षक विजय अग्रवाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संगीता पीटर्स, रामाशंकर द्विवेदी, सचिंद्र चौबे एवं समस्त अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे। प्रतिभागियों को मानव अधिकार विषय पर कार्यशाला का पहला दिन अत्यंत पसन्द आया साथ ही उन्हें अपने अधिकारों की बहुत सी जानकारियां प्राप्त हुई जिनसे प्रतिभागी अब तक अंजान थे।

Rate this item
(2 votes)
Last modified on Friday, 07 February 2020 17:14
शेयर करे...

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.