स्वास्थ्य कर्मचारी को मकान मालिक ने घर से निकाला Featured

रायपुर। कोरोना संक्रमण के दौरान विभिन्न स्वास्थ्य केन्द्रों में कार्यरत कर्मचारियों को मकान मालिकों द्वारा बेघर किए जाने का मामला सामने आ रहा है। ऐसा ही एक मामला राजधानी के रायपुरा इलाके से सामने आया। यहां किराए के मकान में रह रही स्टाफ नर्स पर मकान मालिक की ओर से दबाव बनाया जा रहा था कि या तो वे मकान छोड़ दें या अस्पताल छोड़ दें। मामले में संयुक्त कलेक्टर ने एसएसपी को कार्रवाई का आदेश दिया है। छत्तीसगढ़ स्टेट हेल्थ नर्सिंग यूनियन के अध्यक्ष अजय त्रिपाठी ने बताया कि राजधानी में काम करने वाली स्टाफ नर्स ने उनसे सम्पर्क किया कि मकान मालिक उन्हें घर छोड़ने के लिए मजबूर कर रहा है।

इसके बाद मकान मालिक को समझाने की कोशिश की गई पर वह नहीं माना। मामले में शिकायत पर प्रशासन की ओर से संज्ञान लिया गया। इस संबंध में संयुक्त कलेक्टर ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख को मामले में कार्रवाई के लिए आदेश जारी किया है। एसएसपी को आदेश जारी किया गया कि आरोपी मकान मालिक ने किराएदार (स्टाफ नर्स) को अवैधानिक रूप से घर से निकाला है। इस प्रकार की घटनाओं से कोरोना की रोकथाम में लगे चिकित्सकों और नर्स का मनोबल कमजोर हो रहा है। साथ ही इससे आपदा प्रबंधन कार्य में बाधा उत्पन्न हुई है। मामले में दोषी के विरुद्ध तत्परतापूर्वक कार्रवाई की जाए।

Rate this item
(1 Vote)
शेयर करे...

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.